धार । करोड़पति प्रबंधक के लॉकर में मिले 10 लाख रुपए कीमत के आभूषण , विवेचना के दौरान मजिस्ट्रेट के साथ धार पहुंची इंदौर ईओडब्ल्यू की टीम , पंचनामा बनाकर आभूषण किए जप्त

करोड़पति प्रबंधक के लॉकर में मिले 10 लाख रुपए कीमत के आभूषण
विवेचना के दौरान मजिस्ट्रेट के साथ धार पहुंची इंदौर ईओडब्ल्यू की टीम
पंचनामा बनाकर आभूषण किए जप्त

धार ( डाँ.अशोक शास्त्री ) एमपी एग्रो में पदस्थ करोड़पति प्रबंधक के धार स्थित बैंक के लॉकर को आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ इंदौर की टीम द्वारा खुलवाया गया हैं, इस लॉकर में सोने, चांदी के आभूषण मिले है। जिसके बाद इन आभूषणों के मूल्यांकन को लेकर व्यापारी जांचकर्ता अधिकारी को बुलाया गया, जिसने ही इन आभूषणों की कीमत 10 लाख रुपए के करीब बताई है। ऐसे में प्रबंधक की मौजूदगी में इन आभूषणों को पंचनामा बनाकर अधिकारियों की टीम ने जप्त कर लिया है।
दरअसल 3 दिसंबर को आय से अधिक संपत्ति के मामले की शिकायत प्राप्त होने के बाद इंदौर आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ की टीम ने धार की एमपी एग्राे के जिला प्रबंधक रमेशचंद्र रुपारिया के यहां पर सुबह 6 बजे एक साथ धार, इंदौर, शाजापुर सहित भोपाल स्थित ऑफिस, कार्यालय व निवास पर एक साथ छापामार कार्रवाई थी। लगभग 18 घंटे चली कार्रवाई में 3 करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति का हिसाब विभाग को प्राप्त हुआ था, पूछताछ में आरोपी प्रबंधक ने धार की यूनियन बैंक व भोपाल की एक बैंक में लॉकर होने की बात सामने आई थी। ईओडब्ल्यू इंदौर के विवेचना अधिकारी उप पुलिस अधीक्षक अनिरूद्ध वाधिया अपनी टीम तथा कार्यपालक मजिस्ट्रेट के साथ यूनियन बैंक धार पहुंचे। यहां पर शाखा प्रबंधक कुलदीप भास्कर एवं आरोपी रमेशचन्द्र रूपारिया की उपस्थिति में लाॅकर खुलवाया, जिसमें सोने व चांदी के आभूषण मिले। जिनका बैंक में ही मूल्यांकनकर्ता से आभूषणों की शुद्धता, मूल्यांकन कराते लगभग 10 लाख रूपये के होना पाए गए। ऐसे में सोने-चांदी के आभूषण जप्त किए गए। जल्द ही इस मामले में टीम प्रबंधक के बेटे को भी आरोपी बना सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *